Ukraine Russia War: यूक्रेन में फिर दिखे रूस की बर्बरता के निशान, मारियुपोल में मिली सामूहिक कब्र, 1000 शव होने का अनुमान

यूक्रेन के ध्वस्त हो चुके शहर मारियुपोल के बाहर एक और सामूहिक कब्र मिली है. शहर के मेयर के सलाहकार ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. शहर की परिषद ने ‘प्लेनेट लैब्स’ द्वारा उपग्रह से ली गयी एक तस्वीर पोस्ट की है जिसे सामूहिक कब्र बताया जा रहा हैं.  बताया जा रहा है कि 45 मीटर लंबे और 25 मीटर चौडी इस कब्र में मारियुपोल के कम से कम 1,000 निवासियों के शव हो सकते हैं. यह भी बताया कि सामूहिक कब्र व्यनोरादने गांव के बाहर देखी गयी है जो मारियुपोल के पूर्व में पड़ता है. इससे पहले उपग्रह तस्वीरें उपलब्ध कराने वाली कंपनी मैक्सार टेक्नोलॉजीज द्वारा दी गयी तस्वीरों में मारियुपोल के पश्चिम में स्थित मनहुस शहर में सामूहिक रूप से 200 से अधिक कब्रें दिखाई दी थीं. सामूहिक कब्र के मिलने के बाद यह आरोप लगाए जा रहे हैं कि रूस शहर में नागरिकों की हत्या को छिपाने की कोशिश कर रहा है. एक लाख लोग फंसे वहीं, मारियुपोल के मेयर ने शुक्रवार को यूक्रेन के दक्षिणी शहर को पूरी तरह से खाली कराने की अपील की है. बता दें शहर को लेकर राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का कहना है कि इस पर अब रूसी सेना का नियंत्रण है. मेयर वादिम बोइचेंको ने राष्ट्रीय टेलीविजन पर कहा, "हमें केवल एक चीज की जरूरत है - आबादी की पूर्ण निकासी. लगभग 100,000 लोग मारियुपोल में फंसे हैं." बोइचेंको (जो अब मारियुपोल में नहीं है) ने शहर में या उसके आसपास किसी भी लड़ाई के बारे में कोई अपडेट नहीं दिया. लेकिन उन्होंने ब्योरा दिए बिना कहा कि मारियुपोल में रह गए लोगों के साथ रूसी सेना का "मजाक" जारी रहा. पुतिन का दावा मारियुपोल रूसी कब्जे में  पुतिन ने गुरुवार को कहा कि रूसी सैनिकों ने मारियुपोल को "मुक्त" करा लिया है. लेकिन यूक्रेनी अधिकारियों के अनुसार, यूक्रेनी लड़ाकों का एक दल अभी भी अज़ोवस्टल स्टील कॉम्प्लेक्स के भूमिगत बंकरों में सैकड़ों नागरिकों के साथ हताश परिस्थितियों में मौजूद है. हालांकि एक छोटा काफिला बुधवार को शहर से निकलने में सफल रहा और गुरुवार को यूक्रेन के नियंत्रण वाले शहर ज़ापोरिज्जिया पहुंच गया. इस बीच उप प्रधानमंत्री इरीना वीरेशचुक ने अलग से कहा कि यूक्रेन शुक्रवार को शहरों और कस्बों से नागरिकों को निकालने के लिए कोई मानवीय गलियारा स्थापित करने का प्रयास नहीं कर रहा था. यह भी पढ़ें. Visva-Bharati University में छात्र की मौत के बाद VC आवास के बाहर प्रदर्शन, राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मांगी सिक्योरिटी Khargone Violence: खरगोन हिंसा के दौरान एसपी पर गोली चलाने वाला मुख्य आरोपी वसीम उर्फ मोहसीन गिरफ्तार

Ukraine Russia War: यूक्रेन में फिर दिखे रूस की बर्बरता के निशान, मारियुपोल में मिली सामूहिक कब्र, 1000 शव होने का अनुमान

यूक्रेन के ध्वस्त हो चुके शहर मारियुपोल के बाहर एक और सामूहिक कब्र मिली है. शहर के मेयर के सलाहकार ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. शहर की परिषद ने ‘प्लेनेट लैब्स’ द्वारा उपग्रह से ली गयी एक तस्वीर पोस्ट की है जिसे सामूहिक कब्र बताया जा रहा हैं. 

बताया जा रहा है कि 45 मीटर लंबे और 25 मीटर चौडी इस कब्र में मारियुपोल के कम से कम 1,000 निवासियों के शव हो सकते हैं. यह भी बताया कि सामूहिक कब्र व्यनोरादने गांव के बाहर देखी गयी है जो मारियुपोल के पूर्व में पड़ता है. इससे पहले उपग्रह तस्वीरें उपलब्ध कराने वाली कंपनी मैक्सार टेक्नोलॉजीज द्वारा दी गयी तस्वीरों में मारियुपोल के पश्चिम में स्थित मनहुस शहर में सामूहिक रूप से 200 से अधिक कब्रें दिखाई दी थीं. सामूहिक कब्र के मिलने के बाद यह आरोप लगाए जा रहे हैं कि रूस शहर में नागरिकों की हत्या को छिपाने की कोशिश कर रहा है.

एक लाख लोग फंसे

वहीं, मारियुपोल के मेयर ने शुक्रवार को यूक्रेन के दक्षिणी शहर को पूरी तरह से खाली कराने की अपील की है. बता दें शहर को लेकर राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का कहना है कि इस पर अब रूसी सेना का नियंत्रण है. मेयर वादिम बोइचेंको ने राष्ट्रीय टेलीविजन पर कहा, "हमें केवल एक चीज की जरूरत है - आबादी की पूर्ण निकासी. लगभग 100,000 लोग मारियुपोल में फंसे हैं." बोइचेंको (जो अब मारियुपोल में नहीं है) ने शहर में या उसके आसपास किसी भी लड़ाई के बारे में कोई अपडेट नहीं दिया. लेकिन उन्होंने ब्योरा दिए बिना कहा कि मारियुपोल में रह गए लोगों के साथ रूसी सेना का "मजाक" जारी रहा.

पुतिन का दावा मारियुपोल रूसी कब्जे में 

पुतिन ने गुरुवार को कहा कि रूसी सैनिकों ने मारियुपोल को "मुक्त" करा लिया है. लेकिन यूक्रेनी अधिकारियों के अनुसार, यूक्रेनी लड़ाकों का एक दल अभी भी अज़ोवस्टल स्टील कॉम्प्लेक्स के भूमिगत बंकरों में सैकड़ों नागरिकों के साथ हताश परिस्थितियों में मौजूद है.

हालांकि एक छोटा काफिला बुधवार को शहर से निकलने में सफल रहा और गुरुवार को यूक्रेन के नियंत्रण वाले शहर ज़ापोरिज्जिया पहुंच गया. इस बीच उप प्रधानमंत्री इरीना वीरेशचुक ने अलग से कहा कि यूक्रेन शुक्रवार को शहरों और कस्बों से नागरिकों को निकालने के लिए कोई मानवीय गलियारा स्थापित करने का प्रयास नहीं कर रहा था.

यह भी पढ़ें.

Visva-Bharati University में छात्र की मौत के बाद VC आवास के बाहर प्रदर्शन, राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मांगी सिक्योरिटी

Khargone Violence: खरगोन हिंसा के दौरान एसपी पर गोली चलाने वाला मुख्य आरोपी वसीम उर्फ मोहसीन गिरफ्तार