Russia-Ukraine War: मॉस्को ने किया नई इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण, पुतिन बोले- ये दुश्मनों को दो बार सोचने पर कर देगी मजबूर

Russia-Ukraine War: यूक्रेन के साथ जारी युद्ध के बीच रूस ने बुधवार को कहा कि उसने अपनी नई सरमत इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है. राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि यह उन लोगों के विचार के लिए भोजन प्रदान करेगा जो यूक्रेन के साथ चल रहे युद्ध के बीच रूस को धमकी देने की कोशिश करते हैं. न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक ये मिसाइल क्रेमलिन के दुश्मनों को 'दो बार सोचने पर मजबूर कर देगी' रॉयटर्स के मुताबिक रिपोर्ट के अनुसार, टीवी पर दिखाया गया कि पुतिन को सेना ने यह बताया कि मिसाइल देश के उत्तर-पश्चिम में प्लेसेत्स्क से लॉन्च की गई थी और इसने सुदूर पूर्व में कामचटका प्रायद्वीप में लक्ष्य को निशाना बनाया. मॉस्को ने यह मिसाइल परीक्षण ऐसे समय में किया है कि जब रूस ने यूक्रेन के पूर्वी औद्योगिक क्षेत्र में कोयला खदानों और कारखानों पर नियंत्रण हासिल करने के लिए मंगलवार को हमले तेज कर दिए हैं. उसने शहरों और कस्बों के पास सैकड़ों मील लंबे मोर्चे को निशाना बनाया. रूसी बलों का मुख्य लक्ष्य पूर्वी डोनबास क्षेत्र पर कब्जा करना है. पूर्वी यूक्रेन में रूसी हमलों से यूएन महासचिव चिंतित पूर्वी यूक्रेन में रूस की जबरदस्त हमलों पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भी चिंता जताई. उन्होंने मंगलवार को कहा कि पूर्वी यूक्रेन में रूस के हमले ने इस युद्ध को अनिवार्य रूप से अधिक ‘‘हिंसक, रक्तरंजित और विध्वंसकारी’’ बना दिया है. गुतारेस ने गुरुवार से शुरू होने वाले और 24 अप्रैल ईस्टर रविवार तक चलने वाले चार दिवसीय पवित्र सप्ताह में आक्रमण पर मानवीय आधार पर रोक की मांग की ताकि मानवीय गलियारे खोले जा सकें. गुतारेस ने इस बात पर निराशा व्यक्त की कि यूक्रेन में युद्धविराम के लिए कई पक्षों द्वारा किए गए प्रयास विफल रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ चार दिन की ईस्टर अवधि लोगों की जिंदगियां बचाने के लिए एकजुट होने और यू्क्रेन की पीड़ा समाप्त करने के लिए बातचीत बढ़ाने के लिहाज से होनी चाहिए.’’ यह भी पढ़ें: Russia-Ukraine War: यूरोपीय काउंसिल प्रमुख पहुंचे कीव, कहा - यूक्रेन में हुए युद्ध अपराधों को इतिहास नहीं भूलेगा Russia-Ukraine War: संयुक्त राष्ट्र ने कहा- युद्ध शुरू होने के बाद से 50 लाख से अधिक यूक्रेनी नागिरक छोड़ चुके हैं अपना देश

Russia-Ukraine War: मॉस्को ने किया नई इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण, पुतिन बोले- ये दुश्मनों को दो बार सोचने पर कर देगी मजबूर

Russia-Ukraine War: यूक्रेन के साथ जारी युद्ध के बीच रूस ने बुधवार को कहा कि उसने अपनी नई सरमत इंटरकांटिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है. राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि यह उन लोगों के विचार के लिए भोजन प्रदान करेगा जो यूक्रेन के साथ चल रहे युद्ध के बीच रूस को धमकी देने की कोशिश करते हैं. न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक ये मिसाइल क्रेमलिन के दुश्मनों को 'दो बार सोचने पर मजबूर कर देगी'

रॉयटर्स के मुताबिक रिपोर्ट के अनुसार, टीवी पर दिखाया गया कि पुतिन को सेना ने यह बताया कि मिसाइल देश के उत्तर-पश्चिम में प्लेसेत्स्क से लॉन्च की गई थी और इसने सुदूर पूर्व में कामचटका प्रायद्वीप में लक्ष्य को निशाना बनाया.

मॉस्को ने यह मिसाइल परीक्षण ऐसे समय में किया है कि जब रूस ने यूक्रेन के पूर्वी औद्योगिक क्षेत्र में कोयला खदानों और कारखानों पर नियंत्रण हासिल करने के लिए मंगलवार को हमले तेज कर दिए हैं. उसने शहरों और कस्बों के पास सैकड़ों मील लंबे मोर्चे को निशाना बनाया. रूसी बलों का मुख्य लक्ष्य पूर्वी डोनबास क्षेत्र पर कब्जा करना है.

पूर्वी यूक्रेन में रूसी हमलों से यूएन महासचिव चिंतित 
पूर्वी यूक्रेन में रूस की जबरदस्त हमलों पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने भी चिंता जताई. उन्होंने मंगलवार को कहा कि पूर्वी यूक्रेन में रूस के हमले ने इस युद्ध को अनिवार्य रूप से अधिक ‘‘हिंसक, रक्तरंजित और विध्वंसकारी’’ बना दिया है. गुतारेस ने गुरुवार से शुरू होने वाले और 24 अप्रैल ईस्टर रविवार तक चलने वाले चार दिवसीय पवित्र सप्ताह में आक्रमण पर मानवीय आधार पर रोक की मांग की ताकि मानवीय गलियारे खोले जा सकें.

गुतारेस ने इस बात पर निराशा व्यक्त की कि यूक्रेन में युद्धविराम के लिए कई पक्षों द्वारा किए गए प्रयास विफल रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘‘ चार दिन की ईस्टर अवधि लोगों की जिंदगियां बचाने के लिए एकजुट होने और यू्क्रेन की पीड़ा समाप्त करने के लिए बातचीत बढ़ाने के लिहाज से होनी चाहिए.’’

यह भी पढ़ें:

Russia-Ukraine War: यूरोपीय काउंसिल प्रमुख पहुंचे कीव, कहा - यूक्रेन में हुए युद्ध अपराधों को इतिहास नहीं भूलेगा

Russia-Ukraine War: संयुक्त राष्ट्र ने कहा- युद्ध शुरू होने के बाद से 50 लाख से अधिक यूक्रेनी नागिरक छोड़ चुके हैं अपना देश