Russia-Ukraine War: मॉस्को के नियंत्रण वाले यूक्रेनी क्षेत्र में 1 मई से शुरू होगा रूसी रूबल का चलन, रशियन अधिकारी का दावा

Russia-Ukraine War:  रूस के एक अधिकारी ने गुरुवार को कहा कि रूस के कब्जे वाले यूक्रेनी इलाके में रूसी रूबल को जल्द ही पेश किया जाएगा. दक्षिणी यूक्रेन के खेरसॉन के रूसी-नियंत्रित क्षेत्र के एक नागरिक और सैन्य प्रशासक ने कहा कि मॉस्को आने वाले दिनों में इस क्षेत्र में अपनी मुद्रा पेश करेगा. रूस की सरकारी समाचार एजेंसी आरआईए नोवोस्ती के मुताबिक अधिकारी, किरिल स्ट्रेमोसोव ने कहा, "1 मई से, हम रूबल जोन में चले जाएंगे."  उन्होंने कहा कि चार महीने का ग्रेस पीरियड होगा. इस दौरान यूक्रेन की मुद्रा, ‘रिव्निया’ का भी उपयोग किया जा सकेगा. फिर हम पूरी तरह से रूबल में भुगतान के लिए स्विच कर जाएंगे." न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक स्ट्रेमौसोव की घोषणा की अभी तक किसी भी उच्च पदस्थ रूसी अधिकारी द्वारा पुष्टि नहीं की गई है. यह जानकारी ऐसे समय में समय आई है जब एक दिन पहले ही रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूस की संसद में संकल्प व्यक्त किया कि यूक्रेन में देश के सैन्य अभियान के लक्ष्यों को हासिल किया जाएगा. रूस का दावा दक्षिणी खेरसॉन पर है उसका नियंत्रण रूस ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि उसने पूरे दक्षिणी खेरसॉन क्षेत्र पर नियंत्रण कर लिया है, जिसमें उसकी प्रशासनिक राजधानी भी शामिल है, जो 24 फरवरी के हमले के तुरंत बाद रूसी सैनिकों के हाथों में आ गई थी. ‘शांतिपूर्ण जीवन बहाल किया जाएगा’मॉस्को के रक्षा मंत्रालय ने दावा किया कि हाल ही में कब्जा किए गए क्षेत्र और अन्य लोगों के लिए "शांतिपूर्ण जीवन" बहाल किया जा रहा है. हालांकि यूक्रेनी प्रेस और सोशल मीडिया पर खेरसॉन के रूसी प्रशासन के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों की खबरें सामने आई हैं. यह भी पढ़ें:  Russia-Ukraine War: रूस ने यूक्रेन पर किए साइबर अटैक, माइक्रोसॉफ्ट की रिपोर्ट में हुआ खुलासा QUAD Summit: एक साल में दूसरी बार मिलेंगे पीएम मोदी और जो बाइडेन, इस शहर में अगले महीने होगी दोनों की मुलाकात

Russia-Ukraine War: मॉस्को के नियंत्रण वाले यूक्रेनी क्षेत्र में 1 मई से शुरू होगा रूसी रूबल का चलन, रशियन अधिकारी का दावा

Russia-Ukraine War:  रूस के एक अधिकारी ने गुरुवार को कहा कि रूस के कब्जे वाले यूक्रेनी इलाके में रूसी रूबल को जल्द ही पेश किया जाएगा. दक्षिणी यूक्रेन के खेरसॉन के रूसी-नियंत्रित क्षेत्र के एक नागरिक और सैन्य प्रशासक ने कहा कि मॉस्को आने वाले दिनों में इस क्षेत्र में अपनी मुद्रा पेश करेगा.

रूस की सरकारी समाचार एजेंसी आरआईए नोवोस्ती के मुताबिक अधिकारी, किरिल स्ट्रेमोसोव ने कहा, "1 मई से, हम रूबल जोन में चले जाएंगे."  उन्होंने कहा कि चार महीने का ग्रेस पीरियड होगा. इस दौरान यूक्रेन की मुद्रा, ‘रिव्निया’ का भी उपयोग किया जा सकेगा. फिर हम पूरी तरह से रूबल में भुगतान के लिए स्विच कर जाएंगे."

न्यूज एजेंसी एएफपी के मुताबिक स्ट्रेमौसोव की घोषणा की अभी तक किसी भी उच्च पदस्थ रूसी अधिकारी द्वारा पुष्टि नहीं की गई है. यह जानकारी ऐसे समय में समय आई है जब एक दिन पहले ही रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रूस की संसद में संकल्प व्यक्त किया कि यूक्रेन में देश के सैन्य अभियान के लक्ष्यों को हासिल किया जाएगा.

रूस का दावा दक्षिणी खेरसॉन पर है उसका नियंत्रण
रूस ने इस सप्ताह की शुरुआत में कहा था कि उसने पूरे दक्षिणी खेरसॉन क्षेत्र पर नियंत्रण कर लिया है, जिसमें उसकी प्रशासनिक राजधानी भी शामिल है, जो 24 फरवरी के हमले के तुरंत बाद रूसी सैनिकों के हाथों में आ गई थी.

‘शांतिपूर्ण जीवन बहाल किया जाएगा’
मॉस्को के रक्षा मंत्रालय ने दावा किया कि हाल ही में कब्जा किए गए क्षेत्र और अन्य लोगों के लिए "शांतिपूर्ण जीवन" बहाल किया जा रहा है. हालांकि यूक्रेनी प्रेस और सोशल मीडिया पर खेरसॉन के रूसी प्रशासन के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शनों की खबरें सामने आई हैं.

यह भी पढ़ें: 

Russia-Ukraine War: रूस ने यूक्रेन पर किए साइबर अटैक, माइक्रोसॉफ्ट की रिपोर्ट में हुआ खुलासा

QUAD Summit: एक साल में दूसरी बार मिलेंगे पीएम मोदी और जो बाइडेन, इस शहर में अगले महीने होगी दोनों की मुलाकात