Russia Ukraine War: बुचा में क्रूरता करने की आरोपी ब्रिगेड को रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने किया सम्मानित

Russia Ukraine War:  रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को यूक्रेन के बुचा शहर में क्रूरता करने की आरोपी एक ब्रिगेड को मानद उपाधि से सम्मानित किया. न्यूज एजेंसी एएफपी ने यह जानकारी दी है. बता दें यूक्रेन के अधिकारियों ने रूसी सैनिकों पर कीव के बाहर बुचा में नरसंहार और युद्ध अपराधों को अंजाम देने का आरोप लगाया. हालांकि मॉस्को ने इन आरोपों से इनकार किया था. यूक्रेन के बुचा शहर में बड़े पैमाने पर कब्रें और शव पाए जाने की तस्वीरें सामने आने के बाद से दुनियाभर में आक्रोश पैदा हो गया और कई देशों ने घटना की निंदा करते हुए इसकी जांच कराने की मांग उठाई गई. यूएनएचआरसी से निलंबित हुआ रूसइसके बाद 193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 7 अप्रैल को एक दुर्लभ कदम उठाते हुए रूस को यूएनएचआरसी से निलंबित करने के सिलसिले में अमेरिका द्वारा लाए गए एक मसौदा प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए मतदान किया. यह प्रस्ताव, यूक्रेन की राजधानी कीव के नजदीकी शहरों से लौट रहे रूसी सैनिकों द्वारा नागरिकों की हत्या करने के आरोपों को लेकर लाया गया था. प्रस्ताव के पक्ष में 93, विपक्ष में 24 मत पड़े और महासभा के 58 सदस्य देश मतदान से अनुपस्थित रहें. रूस ने यूक्रेन पर किया बड़ा हमलाइस बीच रूस ने सोमवार को दावा किया कि उसने यूक्रेन में सैकड़ों ठिकानों को निशाना बनाने के लिए अपनी वायु सेना, मिसाइल बलों, तोपखाने और एयर डिफेंस सिस्टम का उपयोग करते हुए यूक्रेनी सेना और उससे जुड़े सैन्य ठिकानों पर रात भर बड़े पैमाने पर हमले किए. रूस ने दावा किया कि ये हमले खारकीव, ज़ापोरिज्जिया, डोनेट्स्क, निप्रॉपेट्रोस क्षेत्रों और मायकोलायिव के बंदरगाह में हुए.   भारत दौरे से पहले ब्रिटेन के पीएम बॉरिस जॉनसन फिर विवादों में, इस मामले में लगे नए आरोप Russia Ukraine War: यूक्रेन ने रोकी लोगों की निकासी, कहा- रूसी सेना लोगों के निकलने के रास्तों पर कर रही है गोलाबारी

Russia Ukraine War: बुचा में क्रूरता करने की आरोपी ब्रिगेड को रूसी राष्ट्रपति पुतिन ने किया सम्मानित

Russia Ukraine War:  रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने सोमवार को यूक्रेन के बुचा शहर में क्रूरता करने की आरोपी एक ब्रिगेड को मानद उपाधि से सम्मानित किया. न्यूज एजेंसी एएफपी ने यह जानकारी दी है. बता दें यूक्रेन के अधिकारियों ने रूसी सैनिकों पर कीव के बाहर बुचा में नरसंहार और युद्ध अपराधों को अंजाम देने का आरोप लगाया. हालांकि मॉस्को ने इन आरोपों से इनकार किया था.

यूक्रेन के बुचा शहर में बड़े पैमाने पर कब्रें और शव पाए जाने की तस्वीरें सामने आने के बाद से दुनियाभर में आक्रोश पैदा हो गया और कई देशों ने घटना की निंदा करते हुए इसकी जांच कराने की मांग उठाई गई.

यूएनएचआरसी से निलंबित हुआ रूस
इसके बाद 193 सदस्यीय संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 7 अप्रैल को एक दुर्लभ कदम उठाते हुए रूस को यूएनएचआरसी से निलंबित करने के सिलसिले में अमेरिका द्वारा लाए गए एक मसौदा प्रस्ताव को स्वीकार करने के लिए मतदान किया. यह प्रस्ताव, यूक्रेन की राजधानी कीव के नजदीकी शहरों से लौट रहे रूसी सैनिकों द्वारा नागरिकों की हत्या करने के आरोपों को लेकर लाया गया था. प्रस्ताव के पक्ष में 93, विपक्ष में 24 मत पड़े और महासभा के 58 सदस्य देश मतदान से अनुपस्थित रहें.

रूस ने यूक्रेन पर किया बड़ा हमला
इस बीच रूस ने सोमवार को दावा किया कि उसने यूक्रेन में सैकड़ों ठिकानों को निशाना बनाने के लिए अपनी वायु सेना, मिसाइल बलों, तोपखाने और एयर डिफेंस सिस्टम का उपयोग करते हुए यूक्रेनी सेना और उससे जुड़े सैन्य ठिकानों पर रात भर बड़े पैमाने पर हमले किए. रूस ने दावा किया कि ये हमले खारकीव, ज़ापोरिज्जिया, डोनेट्स्क, निप्रॉपेट्रोस क्षेत्रों और मायकोलायिव के बंदरगाह में हुए.  

भारत दौरे से पहले ब्रिटेन के पीएम बॉरिस जॉनसन फिर विवादों में, इस मामले में लगे नए आरोप

Russia Ukraine War: यूक्रेन ने रोकी लोगों की निकासी, कहा- रूसी सेना लोगों के निकलने के रास्तों पर कर रही है गोलाबारी