Russia Ukraine War: अब बढ़ेगी रूस की परेशानी? युद्ध के बीच कीव पहुंचे अमेरिका के दो मंत्री, जेलेंस्की से मिले

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच रविवार को पहली बार अमेरिका के दो बड़े मंत्रियों ने कीव पहुंचकर यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की से मुलाकात की. वलोडिमिर ज़ेलेंस्की के कार्यालय द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन ने रविवार को उनसे कीव में मुलाकात की. रूस द्वारा यूक्रेन पर हमले शुरू किए जाने के बाद से ज़ेलेंस्की और अमेरिकी अधिकारियों के बीच यह पहली बैठक है. इस बैठक के बारे में रविवार को ज़ेलेंस्की ने ट्वीट किया, "आज यूक्रेनी लोग एकजुट और मजबूत हैं और यूक्रेन-अमेरिका की दोस्ती तथा साझेदारी पहले से कहीं ज्यादा मजबूत है!"  इससे पहले रविवार को ही राष्ट्रपति के सहयोगी ओलेक्सी एरेस्टोविच ने YouTube पर एक इंटरव्यू के दौरान बोलते हुए बैठक के बारे में पुष्टि की थी. इसके साथ ही, एरेस्टोविच ने आक्रामक हथियारों के लिए यूक्रेन की अपील को दोहराते हुए कहा था, "क्योंकि जब तक कोई 'आक्रामक' (हथियार) नहीं होंगे, तब तक हर दिन एक नया बुका (शहर का नाम) होगा". आपको बता दें कि यूएन के अधिकारियों द्वारा बुका (Bucha) शहर में रूस द्वारा करीब 50 नागरिक हत्याओं के दस्तावेजीकरण की बात कही गई थी. राष्ट्रपति के सहयोगी ओलेक्सी एरेस्टोविच ने आगे कहा, "अगर वे (हथियार) देने को तैयार नहीं होते तो वे (अमेरिका के मंत्री) यहां नहीं आते." शनिवार को, ज़ेलेंस्की ने कहा कि वह यूक्रेन को अब तक वाशिंगटन द्वारा दी गई मदद के लिए आभारी है. हालांकि, उन्होंने यह भी मांग की थी कि वह रूसी सेना के खिलाफ उपयोग करने के लिए भारी और अधिक शक्तिशाली हथियार चाहते हैं.  अपने इंटरव्यू के दौरान ज़ेलेंस्की के सहयोगी एरेस्टोविच ने मारियुपोल (शहर) के बारे में बात करते हुए कहा कि वहां हमारा डिफेंस टूट सकता है क्योंकि वहां यूक्रेन की सेना चारों तरफ से घिरी हुई है. ये भी पढ़ें-  Lata Deenanath Mangeshkar Award: 'इस बार राखी पर नहीं होंगी लता दीदी', पहला सम्मान मिलने के बाद बोले पीएम मोदी Sri Lanka Economic Crisis: गंभीर संकट से जूझ रहे Sri Lanka ने लगाई मदद की गुहार, IMF ने दिया आश्वासन

Russia Ukraine War: अब बढ़ेगी रूस की परेशानी? युद्ध के बीच कीव पहुंचे अमेरिका के दो मंत्री, जेलेंस्की से मिले

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच रविवार को पहली बार अमेरिका के दो बड़े मंत्रियों ने कीव पहुंचकर यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की से मुलाकात की. वलोडिमिर ज़ेलेंस्की के कार्यालय द्वारा साझा की गई जानकारी के अनुसार, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन और अमेरिकी रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन ने रविवार को उनसे कीव में मुलाकात की.

रूस द्वारा यूक्रेन पर हमले शुरू किए जाने के बाद से ज़ेलेंस्की और अमेरिकी अधिकारियों के बीच यह पहली बैठक है. इस बैठक के बारे में रविवार को ज़ेलेंस्की ने ट्वीट किया, "आज यूक्रेनी लोग एकजुट और मजबूत हैं और यूक्रेन-अमेरिका की दोस्ती तथा साझेदारी पहले से कहीं ज्यादा मजबूत है!" 

इससे पहले रविवार को ही राष्ट्रपति के सहयोगी ओलेक्सी एरेस्टोविच ने YouTube पर एक इंटरव्यू के दौरान बोलते हुए बैठक के बारे में पुष्टि की थी. इसके साथ ही, एरेस्टोविच ने आक्रामक हथियारों के लिए यूक्रेन की अपील को दोहराते हुए कहा था, "क्योंकि जब तक कोई 'आक्रामक' (हथियार) नहीं होंगे, तब तक हर दिन एक नया बुका (शहर का नाम) होगा".

आपको बता दें कि यूएन के अधिकारियों द्वारा बुका (Bucha) शहर में रूस द्वारा करीब 50 नागरिक हत्याओं के दस्तावेजीकरण की बात कही गई थी. राष्ट्रपति के सहयोगी ओलेक्सी एरेस्टोविच ने आगे कहा, "अगर वे (हथियार) देने को तैयार नहीं होते तो वे (अमेरिका के मंत्री) यहां नहीं आते."

शनिवार को, ज़ेलेंस्की ने कहा कि वह यूक्रेन को अब तक वाशिंगटन द्वारा दी गई मदद के लिए आभारी है. हालांकि, उन्होंने यह भी मांग की थी कि वह रूसी सेना के खिलाफ उपयोग करने के लिए भारी और अधिक शक्तिशाली हथियार चाहते हैं. 

अपने इंटरव्यू के दौरान ज़ेलेंस्की के सहयोगी एरेस्टोविच ने मारियुपोल (शहर) के बारे में बात करते हुए कहा कि वहां हमारा डिफेंस टूट सकता है क्योंकि वहां यूक्रेन की सेना चारों तरफ से घिरी हुई है.

ये भी पढ़ें- 

Lata Deenanath Mangeshkar Award: 'इस बार राखी पर नहीं होंगी लता दीदी', पहला सम्मान मिलने के बाद बोले पीएम मोदी

Sri Lanka Economic Crisis: गंभीर संकट से जूझ रहे Sri Lanka ने लगाई मदद की गुहार, IMF ने दिया आश्वासन