Rajasthan: सजधज कर अपनी शादी में ट्रैक्टर पर सवार होकर पहुंची दुल्हनिया, एंट्री देख सभी हुए दंग

Kota News: अब तक आपने बैंड, बाजा और बारात शादी में देखी होगी. कोटा में दुल्हन ने अपनी चाहत आगे कुछ ना चली और अपनी शादी को यादगार बनाने और कुछ अलग करने की चाहत के चलते दुल्हन ने अपनी शादी में दूजा अंदाज दिखाया और घर से लेकर कार्यक्रम स्थल तक ट्रैक्टर चलाकर पहुंची. ये ही नहीं दुल्हन ने ना ही साड़ी पहनी और ना ही लहंगा, दुल्हन धोती कुर्ता और साफा बांधा और ट्रैक्टर पर सवार होकर आई. ट्रैक्टर से उतरते ही दुल्हन पूजा ने ढोल हाथ में लिया और उसे बजाना शुरू कर दिया. उसके साथ उसके परिवार के सदस्य और सहेलियों ने जमकर डांस किया. जिस किसी ने भी इस नजारे को देखा वह देखता ही रह गया. खुशी से दुल्हन पूजा भी अपने दोस्तों के साथ झूम उठी और जमकर डांस किया. दुल्हन फैशन डिजाइनर, लेकिन संस्कृति को जिंदा रखने के लिए की पहलदुल्हन पूजा वैसे तो फैशन डिज़ाइनर है और आज के युग में फैशन डिजाइनर नई संस्कृति को अपनाने की बात करते हैं. लेकिन कोटा की फैशन डिजाइनर और दुल्हन ने अपनी संस्कृति को जिंदा रखने के लिए समाज को मैसेज देने का काम करने का सोचा और खुद धोती कुर्ता पहन कर ट्रैक्टर में सवार होकर अपने कार्यक्रम में पहुंची. दुल्हन पूजा का कहना था कि आज के युग में सभी हमारी संस्कृति को भूलते जा रहे हैं. नए युग में तरह-तरह के इवेंट आयोजित कर संस्कृति को खत्म किया जा रहा है. मेरे व मेरे परिवार की सोच थी कि हम हमारे परिवार और समाज को यह बताएं कि संस्कृति को नहीं भूले. इसी संस्कृति से हमारे भारत की पहचान है उसी को देखते हुए हमने यह प्लान बनाया है.  बेटी की सोच को सलाम, दूल्हे वाले भी खुशदुल्हन के पिता मोहन लालवानी ने बताया कि बेटी पूजा कुछ अलग करना चाहती थी, वह पेशे से फैशन डिजाइनर है. उसकी इच्छा थी कि वह शादी में कुछ अलग करे. हमने उससे पूछा तो उसने संस्कृति को जिंदा रखने के लिए धोती कुर्ता पहनकर ट्रैक्टर के साथ आकर कार्यक्रम में शामिल होने की बात कही तो शादी के मायने ही बदल गए. आज के युग में नई जनरेशन पुराने संस्कृति को जिंदा रखने की बात करना कही ना कहीं अच्छी सोच है. इसी लिए शादी समारोह को यादगार बनाने के लिए ट्रैक्टर पर महिला संगीत कार्यक्रम तक पहुंची जहां उसके साथ उसके परिवार के सदस्य शामिल हुए. पूजा की शादी ग्वालियर के रोहित रोहिड़ा के साथ हो रही है. ऐसे में शादी यादगार बनाने का प्लान पहले से ही किया हुआ था. दुल्हन की इस सोच को को दुल्हे के परिवार ने भी सराहा और उसकी हर बात को दूल्हे के परिवार वालों ने माना.  यह भी पढ़ें: Jodhpur News: महिलाओं के बेंत से मार खाने पर तय हो जाता है रिश्ता, जानिए कैसे हुई इस अनोखी परंपरा की शुरुआत Rajasthan News: पाली हादसे में बस के शीशे तोड़कर निकाले गए यात्री, तब बच पाई जान

Rajasthan: सजधज कर अपनी शादी में ट्रैक्टर पर सवार होकर पहुंची दुल्हनिया, एंट्री देख सभी हुए दंग

Kota News: अब तक आपने बैंड, बाजा और बारात शादी में देखी होगी. कोटा में दुल्हन ने अपनी चाहत आगे कुछ ना चली और अपनी शादी को यादगार बनाने और कुछ अलग करने की चाहत के चलते दुल्हन ने अपनी शादी में दूजा अंदाज दिखाया और घर से लेकर कार्यक्रम स्थल तक ट्रैक्टर चलाकर पहुंची. ये ही नहीं दुल्हन ने ना ही साड़ी पहनी और ना ही लहंगा, दुल्हन धोती कुर्ता और साफा बांधा और ट्रैक्टर पर सवार होकर आई. ट्रैक्टर से उतरते ही दुल्हन पूजा ने ढोल हाथ में लिया और उसे बजाना शुरू कर दिया.

उसके साथ उसके परिवार के सदस्य और सहेलियों ने जमकर डांस किया. जिस किसी ने भी इस नजारे को देखा वह देखता ही रह गया. खुशी से दुल्हन पूजा भी अपने दोस्तों के साथ झूम उठी और जमकर डांस किया.

दुल्हन फैशन डिजाइनर, लेकिन संस्कृति को जिंदा रखने के लिए की पहल
दुल्हन पूजा वैसे तो फैशन डिज़ाइनर है और आज के युग में फैशन डिजाइनर नई संस्कृति को अपनाने की बात करते हैं. लेकिन कोटा की फैशन डिजाइनर और दुल्हन ने अपनी संस्कृति को जिंदा रखने के लिए समाज को मैसेज देने का काम करने का सोचा और खुद धोती कुर्ता पहन कर ट्रैक्टर में सवार होकर अपने कार्यक्रम में पहुंची.


दुल्हन पूजा का कहना था कि आज के युग में सभी हमारी संस्कृति को भूलते जा रहे हैं. नए युग में तरह-तरह के इवेंट आयोजित कर संस्कृति को खत्म किया जा रहा है. मेरे व मेरे परिवार की सोच थी कि हम हमारे परिवार और समाज को यह बताएं कि संस्कृति को नहीं भूले. इसी संस्कृति से हमारे भारत की पहचान है उसी को देखते हुए हमने यह प्लान बनाया है. 

बेटी की सोच को सलाम, दूल्हे वाले भी खुश
दुल्हन के पिता मोहन लालवानी ने बताया कि बेटी पूजा कुछ अलग करना चाहती थी, वह पेशे से फैशन डिजाइनर है. उसकी इच्छा थी कि वह शादी में कुछ अलग करे. हमने उससे पूछा तो उसने संस्कृति को जिंदा रखने के लिए धोती कुर्ता पहनकर ट्रैक्टर के साथ आकर कार्यक्रम में शामिल होने की बात कही तो शादी के मायने ही बदल गए. आज के युग में नई जनरेशन पुराने संस्कृति को जिंदा रखने की बात करना कही ना कहीं अच्छी सोच है.

इसी लिए शादी समारोह को यादगार बनाने के लिए ट्रैक्टर पर महिला संगीत कार्यक्रम तक पहुंची जहां उसके साथ उसके परिवार के सदस्य शामिल हुए. पूजा की शादी ग्वालियर के रोहित रोहिड़ा के साथ हो रही है. ऐसे में शादी यादगार बनाने का प्लान पहले से ही किया हुआ था. दुल्हन की इस सोच को को दुल्हे के परिवार ने भी सराहा और उसकी हर बात को दूल्हे के परिवार वालों ने माना. 

यह भी पढ़ें:

Jodhpur News: महिलाओं के बेंत से मार खाने पर तय हो जाता है रिश्ता, जानिए कैसे हुई इस अनोखी परंपरा की शुरुआत

Rajasthan News: पाली हादसे में बस के शीशे तोड़कर निकाले गए यात्री, तब बच पाई जान