Pakistan: फिजूलखर्ची से जुड़े विवाद में बुरी तरह घिरे इमरान, जानें क्यों गले की फांस बना घर से दफ्तर आने-जाने का खर्च

Pakistan News: सरकारी खजाने को पानी की तरह बहाने से जुड़े एक विवाद में इमरान बुरी तरह घिर गए हैं. इस बार उनके गले की फांस बना है घर से दफ्तर आने-जाने का खर्च. दरअसल घर से दफ्तर की दूरी महज 15 किलोमीटर है लेकिन इतनी दूरी हेलिकॉप्टर से तय करने के लिए पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान रोजाना साढ़े सात लाख रुपये फूंकते गए. पाकिस्तान की शहबाज शरीफ सरकार ने सरकारी खर्च का जो चिट्ठा सार्वजनिक किया है. उसके मुताबिक इस्लामाबाद में अपने घर से पीएम हाउस तक जाने के लिए इमरान हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल करते थे. जिसके लिए इमरान ने 3 साल 8 महीने के अपने कार्यकाल में करीब 100 करोड़ रुपये सरकारी खजाने से खर्च कर दिए.  यानी 1330 दिनों के कार्यकाल में इमरान की एक दिन की उड़ान का खर्च आया करीब 7.50 लाख रुपये. इमरान पर पीएम रहते हुए फिजूलखर्ची के कई आरोप लग चुके हैं. इससे पहले विदेशों से मिले तोहफों को बेचने के मामले में भी इमरान घिर चुके हैं. अब उन्हें सफाई देनी पड़ रही है. गुरुवार को लाहौर की रैली में भी उन्होंने सफाई पेश की थी.  इमरान खान को फिजूलखर्ची के मामले में लपेटने की फिराक में शहबाज इमरान ने कहा था जो तोहफा हमने लिया है. वह कानून के अंदर है और सरकार को पता था. हालांकि इमरान कुछ भी सफाई दें, अब पाकिस्तान की शहबाज शरीफ फिजूलखर्ची के मामले में लपेटने की फिराक में है. बता दें कि पूर्व पीएम इमरान खान मुल्क के 22वें प्रधानमंत्री खान थे जिन्हें अविश्वास प्रस्ताव के जरिए पद से हटाया गया और वह पाकिस्तान के इतिहास में अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाए गए पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं. इमरान खान ने 18 अगस्त 2018 को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी. उनका 10 अप्रैल 2022 तक 1,332 दिनों का कार्यकाल रहा. इमरान खान तीन साल सात महीने और 23 दिन तक प्रधानमंत्री पद पर रहे. ये भी पढ़ें: Jammu Kashmir News: बीजेपी का संविधान पर चला बुलडोजर अब अल्पसंख्यकों के घरों तक पहुंच गया है- महबूबा मुफ्ती J&K Sarkari Naukri: जम्मू कश्मीर लोक सेवा आयोग ने जारी किया सिविल सेवा प्री परीक्षा का शेड्यूल, भरे जाएंगे 220 पद, जानिए जरूरी तारीखें

Pakistan: फिजूलखर्ची से जुड़े विवाद में बुरी तरह घिरे इमरान, जानें क्यों गले की फांस बना घर से दफ्तर आने-जाने का खर्च

Pakistan News: सरकारी खजाने को पानी की तरह बहाने से जुड़े एक विवाद में इमरान बुरी तरह घिर गए हैं. इस बार उनके गले की फांस बना है घर से दफ्तर आने-जाने का खर्च. दरअसल घर से दफ्तर की दूरी महज 15 किलोमीटर है लेकिन इतनी दूरी हेलिकॉप्टर से तय करने के लिए पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान रोजाना साढ़े सात लाख रुपये फूंकते गए.

पाकिस्तान की शहबाज शरीफ सरकार ने सरकारी खर्च का जो चिट्ठा सार्वजनिक किया है. उसके मुताबिक इस्लामाबाद में अपने घर से पीएम हाउस तक जाने के लिए इमरान हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल करते थे. जिसके लिए इमरान ने 3 साल 8 महीने के अपने कार्यकाल में करीब 100 करोड़ रुपये सरकारी खजाने से खर्च कर दिए. 

यानी 1330 दिनों के कार्यकाल में इमरान की एक दिन की उड़ान का खर्च आया करीब 7.50 लाख रुपये. इमरान पर पीएम रहते हुए फिजूलखर्ची के कई आरोप लग चुके हैं. इससे पहले विदेशों से मिले तोहफों को बेचने के मामले में भी इमरान घिर चुके हैं. अब उन्हें सफाई देनी पड़ रही है. गुरुवार को लाहौर की रैली में भी उन्होंने सफाई पेश की थी. 

इमरान खान को फिजूलखर्ची के मामले में लपेटने की फिराक में शहबाज

इमरान ने कहा था जो तोहफा हमने लिया है. वह कानून के अंदर है और सरकार को पता था. हालांकि इमरान कुछ भी सफाई दें, अब पाकिस्तान की शहबाज शरीफ फिजूलखर्ची के मामले में लपेटने की फिराक में है.

बता दें कि पूर्व पीएम इमरान खान मुल्क के 22वें प्रधानमंत्री खान थे जिन्हें अविश्वास प्रस्ताव के जरिए पद से हटाया गया और वह पाकिस्तान के इतिहास में अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाए गए पहले प्रधानमंत्री बन गए हैं. इमरान खान ने 18 अगस्त 2018 को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी. उनका 10 अप्रैल 2022 तक 1,332 दिनों का कार्यकाल रहा. इमरान खान तीन साल सात महीने और 23 दिन तक प्रधानमंत्री पद पर रहे.

ये भी पढ़ें:

Jammu Kashmir News: बीजेपी का संविधान पर चला बुलडोजर अब अल्पसंख्यकों के घरों तक पहुंच गया है- महबूबा मुफ्ती

J&K Sarkari Naukri: जम्मू कश्मीर लोक सेवा आयोग ने जारी किया सिविल सेवा प्री परीक्षा का शेड्यूल, भरे जाएंगे 220 पद, जानिए जरूरी तारीखें