Jahangirpuri Violence: शोभायात्रा में बवाल के बाद राजनीतिक दलों ने की शांति की अपील, जानिए किसने क्या कहा

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में हनुमान जयंती शोभायात्रा के दौरान हुए बवाल के बाद पुलिस प्रशासनिक अधिकारी स्थिति को अंडर कंट्रोल बता रहे हैं. वहीं कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और देश के कुछ अन्य दलों ने दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में दो गुटों के बीच हुई हिंसा की निंदा करते हुए शनिवार को लोगों से शांति और प्रेम भावना को बनाए रखने की अपील की है.  दरअसल उत्तर-पश्चिमी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में शनिवार को हनुमान जयंती पर निकाले गए जुलूस में पथराव के बाद हिंसा भड़क गई, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए. यह जानकारी प्रशासनिक अधिकारियों ने दी है. वहीं दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने ट्वीट कर हालात को अभी नियंत्रण में बताया है और दंगाइयों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही है. सीएम केजरीवाल ने की हिंसा की निंदा आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, "दिल्ली के जहांगीर पुरी में शोभायात्रा में पथराव की घटना बेहद निंदनीय है. जो भी दोषी हों उन पर सख़्त कार्रवाई होनी चाहिए. सभी लोगों से अपील- एक दूसरे का हाथ पकड़कर शांति बनाए रखें." कांग्रेस ने की भाईचारा बनाए रखने की अपील दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने ट्वीट कर लिखा "जहांगीरपुरी की घटना बेहद दुःखद है. किसी भी तरह के भ्रम या अफवाह पर ध्यान ना दें. दिल्ली के आपसी भाईचारे और सौहार्द को कायम रखें." दिल्ली के अल्पसंख्यक विभाग के प्रमुख इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा कि "तमाम दिल्ली वासियों से शांति की अपील, एकजुट रहिये, अफवाहों से बचिये. दिल्ली देश का दिल है, कम से कम इस शहर को तो नफ़रत से महफ़ूज़ रखिये." राष्ट्रीय जनता दल ने की उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग राष्ट्रीय जनता दल के सांसद मनोज झा ने कहा कि "जहांगीरपुरी (दिल्ली) में भी सामजिक ताने-बाने को भी नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गयी है. केंद्र सरकार से विनती है कि उपद्रवियों/हेट स्पीच देने वालों को चिन्हित कर कारवाई करें बिना नफा नुकसान की विवेचना के और दिल्ली सरकार अपने सभी विधायक/वालंटियर्स को अतिशीघ्र शांति बहाली में फ़ौरन उतार दे." इसे भी पढ़ेंःBallia Paper Leak Case: पेपर लीक केस में तीन पत्रकारों की अबतक नहीं हुई रिहाई, विरोध में आज बलिया बंद हनुमान जयंती 2022: करोल बाग के सिद्ध हनुमान मंदिर में काटा जायेगा 51 किलो का केक

Jahangirpuri Violence: शोभायात्रा में बवाल के बाद राजनीतिक दलों ने की शांति की अपील, जानिए किसने क्या कहा

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में हनुमान जयंती शोभायात्रा के दौरान हुए बवाल के बाद पुलिस प्रशासनिक अधिकारी स्थिति को अंडर कंट्रोल बता रहे हैं. वहीं कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और देश के कुछ अन्य दलों ने दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में दो गुटों के बीच हुई हिंसा की निंदा करते हुए शनिवार को लोगों से शांति और प्रेम भावना को बनाए रखने की अपील की है. 

दरअसल उत्तर-पश्चिमी दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में शनिवार को हनुमान जयंती पर निकाले गए जुलूस में पथराव के बाद हिंसा भड़क गई, जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए. यह जानकारी प्रशासनिक अधिकारियों ने दी है. वहीं दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने ट्वीट कर हालात को अभी नियंत्रण में बताया है और दंगाइयों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात कही है.

सीएम केजरीवाल ने की हिंसा की निंदा

आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, "दिल्ली के जहांगीर पुरी में शोभायात्रा में पथराव की घटना बेहद निंदनीय है. जो भी दोषी हों उन पर सख़्त कार्रवाई होनी चाहिए. सभी लोगों से अपील- एक दूसरे का हाथ पकड़कर शांति बनाए रखें."

कांग्रेस ने की भाईचारा बनाए रखने की अपील

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने ट्वीट कर लिखा "जहांगीरपुरी की घटना बेहद दुःखद है. किसी भी तरह के भ्रम या अफवाह पर ध्यान ना दें. दिल्ली के आपसी भाईचारे और सौहार्द को कायम रखें." दिल्ली के अल्पसंख्यक विभाग के प्रमुख इमरान प्रतापगढ़ी ने कहा कि "तमाम दिल्ली वासियों से शांति की अपील, एकजुट रहिये, अफवाहों से बचिये. दिल्ली देश का दिल है, कम से कम इस शहर को तो नफ़रत से महफ़ूज़ रखिये."

राष्ट्रीय जनता दल ने की उपद्रवियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग

राष्ट्रीय जनता दल के सांसद मनोज झा ने कहा कि "जहांगीरपुरी (दिल्ली) में भी सामजिक ताने-बाने को भी नुकसान पहुंचाने की कोशिश की गयी है. केंद्र सरकार से विनती है कि उपद्रवियों/हेट स्पीच देने वालों को चिन्हित कर कारवाई करें बिना नफा नुकसान की विवेचना के और दिल्ली सरकार अपने सभी विधायक/वालंटियर्स को अतिशीघ्र शांति बहाली में फ़ौरन उतार दे."

इसे भी पढ़ेंः
Ballia Paper Leak Case: पेपर लीक केस में तीन पत्रकारों की अबतक नहीं हुई रिहाई, विरोध में आज बलिया बंद

हनुमान जयंती 2022: करोल बाग के सिद्ध हनुमान मंदिर में काटा जायेगा 51 किलो का केक