Chanakya Niti: धन कमाने से भी ज्यादा जरूरी है चाणक्य की ये बात, जिसने जान ली, उसे ही मिली है 'लक्ष्मी'

Chanakya Niti in Hindi, Motivation Thought, Chanakya Niti in Hindi: चाणक्य नीति के अनुसार हर व्यक्ति धन की लालसा मन में रखता है. हर कोई धनवान बनना चाहता है. धन प्राप्त करने के लिए व्यक्ति सात समुद्र पार भी जाने के लिए तैयार रहता है. आचार्य चाणक्य कहते हैं कि जितना धन कमाना आवश्यक है उतना ही महत्वपूर्ण है धन की बचत और इसकी रक्षा करना. धन आने पर किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, आइए जानते हैं आज की चाणक्य नीति- परिश्रम से धन अर्जित करेंचाणक्य नीति कहती है कि जो लोग परिश्रम से धन अर्जित करते हैं, उन पर लक्ष्मी जी मेहरबान रहती है. परिश्रम से प्राप्त धन भाग्य में वृद्धि करता है. जो लोग गलत ढंग से धन की प्राप्ति करते हैं वे भयभीत और मन विचलित रहता है. ऐसे लोग सदैव अज्ञात भय से पीड़ित रहते हैं.  फिजूलखर्ची से बचेंचाणक्य नीति कहती है कि व्यक्ति को धन का प्रयोग बहुत सोच समझ कर करना चाहिए. जो लोग धन आने पर बिना प्रयोजन के खर्च करते हैं. अनावश्यक चीजों पर निरंतर धन का व्यय करते रहते हैं ऐसे लोग आगे चलकर धन की कमी के कारण परेशानी उठाते हैं. संकट के समय ऐसे लोग दुख और कष्ट भोगते हैं. धन की रक्षा करेंचाणक्य नीति के अनुसार धन आने पर उसे सुरक्षित और संचित करना चाहिए. धन की बचत करनी चाहिए. इसके बाद धन की रक्षा गंभीरता से करनी चाहिए. जो लोग धन की रक्षा नहीं करते हैं, लक्ष्मी जी उनसे नाराज हो जाती है और उस स्थान को छोड़कर चली जाती हैं. धन की रक्षा और बचत बुरे समय में मदद प्रदान करती है. संकट के समय धन ही सच्चा मित्र होता है. इसलिए धन के महत्व को जानना चाहिए. Numerology :  इस डेट में जन्में लोग कम उम्र में ही हासिल कर लेते हैं मन पसंद 'जॉब', होती है गजब की प्रतिभा Zodiac Sign : इन राशि वालों को सोच समझ कर बतानी चाहिए राज की बात

Chanakya Niti: धन कमाने से भी ज्यादा जरूरी है चाणक्य की ये बात, जिसने जान ली, उसे ही मिली है 'लक्ष्मी'

Chanakya Niti in Hindi, Motivation Thought, Chanakya Niti in Hindi: चाणक्य नीति के अनुसार हर व्यक्ति धन की लालसा मन में रखता है. हर कोई धनवान बनना चाहता है. धन प्राप्त करने के लिए व्यक्ति सात समुद्र पार भी जाने के लिए तैयार रहता है. आचार्य चाणक्य कहते हैं कि जितना धन कमाना आवश्यक है उतना ही महत्वपूर्ण है धन की बचत और इसकी रक्षा करना. धन आने पर किन बातों का ध्यान रखना चाहिए, आइए जानते हैं आज की चाणक्य नीति-

परिश्रम से धन अर्जित करें
चाणक्य नीति कहती है कि जो लोग परिश्रम से धन अर्जित करते हैं, उन पर लक्ष्मी जी मेहरबान रहती है. परिश्रम से प्राप्त धन भाग्य में वृद्धि करता है. जो लोग गलत ढंग से धन की प्राप्ति करते हैं वे भयभीत और मन विचलित रहता है. ऐसे लोग सदैव अज्ञात भय से पीड़ित रहते हैं. 

फिजूलखर्ची से बचें
चाणक्य नीति कहती है कि व्यक्ति को धन का प्रयोग बहुत सोच समझ कर करना चाहिए. जो लोग धन आने पर बिना प्रयोजन के खर्च करते हैं. अनावश्यक चीजों पर निरंतर धन का व्यय करते रहते हैं ऐसे लोग आगे चलकर धन की कमी के कारण परेशानी उठाते हैं. संकट के समय ऐसे लोग दुख और कष्ट भोगते हैं.

धन की रक्षा करें
चाणक्य नीति के अनुसार धन आने पर उसे सुरक्षित और संचित करना चाहिए. धन की बचत करनी चाहिए. इसके बाद धन की रक्षा गंभीरता से करनी चाहिए. जो लोग धन की रक्षा नहीं करते हैं, लक्ष्मी जी उनसे नाराज हो जाती है और उस स्थान को छोड़कर चली जाती हैं. धन की रक्षा और बचत बुरे समय में मदद प्रदान करती है. संकट के समय धन ही सच्चा मित्र होता है. इसलिए धन के महत्व को जानना चाहिए.

Numerology :  इस डेट में जन्में लोग कम उम्र में ही हासिल कर लेते हैं मन पसंद 'जॉब', होती है गजब की प्रतिभा

Zodiac Sign : इन राशि वालों को सोच समझ कर बतानी चाहिए राज की बात