Beauty Tips: क्या आपने लिम्फैटिक ड्रेनजे फेस मसाज के बारे में सुना है? यहां पढ़िए क्या हैं इसके फायदे

Beauty Tips: जब आप मसाज करने के बारे में सोचते हैं, तो आप अपनी मांसपेशियों को आराम देने जैसे फायदों को ध्यान में रख सकते हैं. लेकिन आप क्या एक मालिश के बारे में जानते हैं कि वो आपके स्वास्थ्य के साथ आपकी इम्यून सिस्टम और मांसपेशी को ज्यादा टोन करने का काम करती है. इस तरह की मसाज टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर निकालने में फायदेमंद है. इसे कहते हैं लिम्फेटिक मसाज या लसिका मसाज. लिम्फेटिक मसाज आपके लिम्फैटिक सिस्टम यानिकि लसिका तंत्र पर काम करती है.  लसीका तंत्र वाहिकाओं और दूसरे अंगों का एक नेटवर्क है जो शरीर के तरल पदार्थ को संतुलन में रखता है. अनिवार्य रूप से, यह एक स्वच्छता प्रणाली है जो पूरे शरीर में अपशिष्ट और पोषक तत्वों को ठीक से चलाती है. लिम्फैटिक मसाज का चलन फ़्रांस में शुरू हुआ. इसे 1930 के दशक में एमिल वोडर नाम के एक व्यक्ति ने बनाया था जो फ्रांस में रहता था. कुछ सालों के बाद ये आम मालिश लिम्फेडेमा के लिए एक इलाज बन गया. लिम्फैटिक मसाज के क्या हैं फायदे- लसीका मालिश निकासी का इस्तेमाल लिम्फेडेमा के इलाज के लिए किया जाता है, एक ऐसी स्थिति जो शरीर में सूजन का कारण बनती है. एक अध्ययन में पाया गया कि संपीड़न के अलावा एक लसीका मालिश को शामिल करने से लिम्फेडेमा के रोगियों में सूजन को कम करने में मदद मिली. इसके अलावा, कुछ सबूत हैं कि वे अनिद्रा, फाइब्रोमायल्गिया और आर्थोपेडिक चोटों के लक्षणों में मदद कर सकते हैं. इसके साथ ही आपको बता दें कि लसीका मालिश प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन करती है, पाचन में सुधार करती है, तंत्रिका तंत्र को शांत करती है, और यहां तक कि त्वचा की उपस्थिति में सुधार कर सकती है. घर पर कैसे क्र सकते हैं लिम्फैटिक मसाज- पेट की मसाज- दोनों हाथों को अपने पेट पर धीरे से करें। अगला सांस लेना और धीरे से अपने पेट को अपने हाथों में धकेलें. अब आप फिर सांस छोड़ें और धीरे से अपनी नाभि को अपनी रीढ़ में धकेलें. गर्दन की मसाज-  अपने कॉलरबोन के ठीक ऊपर खोखले में स्थित संग्रह नलिकाओं का पता लगाएं. हल्के दबाव को लागू करें और धीरे-धीरे त्वचा को नीचे की ओर खींचें। ऐसे ही दोनों तरफ दोहराएं. चेहरे की मसाज- अपने दोनों हाथो को गालों पर रखें और पीछे की तरफ दबाव डाल के मसाज करें. इस तरह आप घर पर ही लिम्फैटिक मसाज ले सकते हैं और आपके बॉडी टॉक्सिन्स लिम्फैटिक सिस्टम के ज़रिए बाहर निकल जाएंगे. यह भी पढ़ें- Health care tips: अब समर बॉडी गोल्स के लिए जिम जाने की ज़रुरत नहीं, घर पर रह कर भी कर सकते हैं वर्कआउट Kitchen Hacks: वीकेंड पर खाना है कुछ चटपटा तो घर पर बनाएं दही वड़ा चाट, जानें इसकी आसान रेसिपी

Beauty Tips: क्या आपने लिम्फैटिक ड्रेनजे फेस मसाज के बारे में सुना है? यहां पढ़िए क्या हैं इसके फायदे

Beauty Tips: जब आप मसाज करने के बारे में सोचते हैं, तो आप अपनी मांसपेशियों को आराम देने जैसे फायदों को ध्यान में रख सकते हैं. लेकिन आप क्या एक मालिश के बारे में जानते हैं कि वो आपके स्वास्थ्य के साथ आपकी इम्यून सिस्टम और मांसपेशी को ज्यादा टोन करने का काम करती है. इस तरह की मसाज टॉक्सिन्स को शरीर से बाहर निकालने में फायदेमंद है. इसे कहते हैं लिम्फेटिक मसाज या लसिका मसाज.

लिम्फेटिक मसाज आपके लिम्फैटिक सिस्टम यानिकि लसिका तंत्र पर काम करती है.  लसीका तंत्र वाहिकाओं और दूसरे अंगों का एक नेटवर्क है जो शरीर के तरल पदार्थ को संतुलन में रखता है. अनिवार्य रूप से, यह एक स्वच्छता प्रणाली है जो पूरे शरीर में अपशिष्ट और पोषक तत्वों को ठीक से चलाती है. लिम्फैटिक मसाज का चलन फ़्रांस में शुरू हुआ. इसे 1930 के दशक में एमिल वोडर नाम के एक व्यक्ति ने बनाया था जो फ्रांस में रहता था. कुछ सालों के बाद ये आम मालिश लिम्फेडेमा के लिए एक इलाज बन गया.

लिम्फैटिक मसाज के क्या हैं फायदे-

लसीका मालिश निकासी का इस्तेमाल लिम्फेडेमा के इलाज के लिए किया जाता है, एक ऐसी स्थिति जो शरीर में सूजन का कारण बनती है. एक अध्ययन में पाया गया कि संपीड़न के अलावा एक लसीका मालिश को शामिल करने से लिम्फेडेमा के रोगियों में सूजन को कम करने में मदद मिली. इसके अलावा, कुछ सबूत हैं कि वे अनिद्रा, फाइब्रोमायल्गिया और आर्थोपेडिक चोटों के लक्षणों में मदद कर सकते हैं. इसके साथ ही आपको बता दें कि लसीका मालिश प्रतिरक्षा प्रणाली का समर्थन करती है, पाचन में सुधार करती है, तंत्रिका तंत्र को शांत करती है, और यहां तक कि त्वचा की उपस्थिति में सुधार कर सकती है.

घर पर कैसे क्र सकते हैं लिम्फैटिक मसाज-

पेट की मसाज- दोनों हाथों को अपने पेट पर धीरे से करें। अगला सांस लेना और धीरे से अपने पेट को अपने हाथों में धकेलें. अब आप फिर सांस छोड़ें और धीरे से अपनी नाभि को अपनी रीढ़ में धकेलें.

गर्दन की मसाज-  अपने कॉलरबोन के ठीक ऊपर खोखले में स्थित संग्रह नलिकाओं का पता लगाएं. हल्के दबाव को लागू करें और धीरे-धीरे त्वचा को नीचे की ओर खींचें। ऐसे ही दोनों तरफ दोहराएं.

चेहरे की मसाज- अपने दोनों हाथो को गालों पर रखें और पीछे की तरफ दबाव डाल के मसाज करें.

इस तरह आप घर पर ही लिम्फैटिक मसाज ले सकते हैं और आपके बॉडी टॉक्सिन्स लिम्फैटिक सिस्टम के ज़रिए बाहर निकल जाएंगे.

यह भी पढ़ें-

Kitchen Hacks: वीकेंड पर खाना है कुछ चटपटा तो घर पर बनाएं दही वड़ा चाट, जानें इसकी आसान रेसिपी