Alwar Temple Demolition: मंदिर को लेकर घमासान जारी, आज राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष पहुंचेंगे मंदिर स्थल, VHP की ये है योजना

Rajasthan Temple Demolition: राजस्थान के अलवर जिले के राजगढ़ में मंदिर तोड़े जाने को लेकर सियासी घमासान जारी है. हालांकि इलाके में स्थिति सामान्य है और शांति बनी हुई है. इस बीच राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मंदिर पहुंचेंगे. रविवार को अलवर के राजगढ़ शिव मंदिर में स्थानीय लोगों ने कीर्तन किया. इस दौरान यहां कोई नेता नहीं पहुंचा और स्थिति सामान्य रही. आज दोपहर 12 बजे राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा शिव मंदिर पहुंचेंगे. वहीं बुधवार को वीएचपी (VHP) बड़ा प्रदर्शन कर सकती है. बीजेपी और कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. बीजेपी राजस्थान की गहलोत सरकार पर मंदिर तोड़ने का आरोप लगा रही है. तो वही अतिक्रमण हटाने के अभियान के तहत मंदिर तोड़े जाने को लेकर कुछ हिंदू संगठनों में भी रोष है. राजगढ़ में मंदिर तोड़े जाने को लेकर सियासी घमासान इससे पहले राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी आरोप लगाते हुए कहा था कि वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली पूर्व बीजेपी सरकार के समय में भी जयपुर में सैकड़ों मंदिरों को तोड़ा गया था. डोटासरा ने अपनी पार्टी का बचाव करते हुए कहा था कि कांग्रेस किसी धार्मिक स्थल को निशाना नहीं बनाती है. उन्होंने बीजेपी पर धर्म के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया था. वहीं राजस्थान के एक मंत्री का कहना है कि बीजेपी की अध्यक्षता वाले राजगढ़ नगरपालिका बोर्ड ने इसके लिए मंजूरी दी थी.  अतिक्रमण हटाने के अभियान के दौरान तोड़ा गया था मंदिर बता दें कि अलवर जिले के राजगढ़ में 17 और 18 अप्रैल को अतिक्रमण हटाने को लेकर एक अभियान के तहत दो मंदिरों और कुछ दुकानों और घरों को तोड़ दिया गया था. जिन घरों पर बुलडोजर चला उसके चेहरे बिगड़ गए. कोई अपने घरों की छत पर ही अटका रह गया तो कोई दुकान और घर टूट जाने से परेशान दिखा. लेकिन इसी कार्रवाई में तीन सौ साल पुराने मंदिर के इस एक कोने में बने शिव मंदिर को भी तोड़ दिया गया था. इससे स्थानीय लोगों में काफ़ी रोष है. यहां बीजेपी के तीन सांसद आ चुके हैं और बीजेपी का एक पांच सदस्यीय डेलिगेशन भी आ चुका है. मंदिर को लेकर कांग्रेस और बीजेपी एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. ये भी पढ़ें: Punjab Minister Visit: ‘शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा मॉडल’ देखने के लिए सोमवार को दिल्ली में होंगे पंजाब के अधिकारी, सीएम भगवंत मान भी होंगे साथ Punjab: LPU प्रोफेसर ने की भगवान राम के बारे में अपमानजनक टिप्पणी, विश्वविद्यालय ने किया बर्खास्त

Alwar Temple Demolition: मंदिर को लेकर घमासान जारी, आज राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष पहुंचेंगे मंदिर स्थल, VHP की ये है योजना

Rajasthan Temple Demolition: राजस्थान के अलवर जिले के राजगढ़ में मंदिर तोड़े जाने को लेकर सियासी घमासान जारी है. हालांकि इलाके में स्थिति सामान्य है और शांति बनी हुई है. इस बीच राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मंदिर पहुंचेंगे. रविवार को अलवर के राजगढ़ शिव मंदिर में स्थानीय लोगों ने कीर्तन किया. इस दौरान यहां कोई नेता नहीं पहुंचा और स्थिति सामान्य रही. आज दोपहर 12 बजे राजस्थान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोविंद डोटासरा शिव मंदिर पहुंचेंगे. वहीं बुधवार को वीएचपी (VHP) बड़ा प्रदर्शन कर सकती है. बीजेपी और कांग्रेस के बीच आरोप प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. बीजेपी राजस्थान की गहलोत सरकार पर मंदिर तोड़ने का आरोप लगा रही है. तो वही अतिक्रमण हटाने के अभियान के तहत मंदिर तोड़े जाने को लेकर कुछ हिंदू संगठनों में भी रोष है.

राजगढ़ में मंदिर तोड़े जाने को लेकर सियासी घमासान

इससे पहले राजस्थान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने भी आरोप लगाते हुए कहा था कि वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली पूर्व बीजेपी सरकार के समय में भी जयपुर में सैकड़ों मंदिरों को तोड़ा गया था. डोटासरा ने अपनी पार्टी का बचाव करते हुए कहा था कि कांग्रेस किसी धार्मिक स्थल को निशाना नहीं बनाती है. उन्होंने बीजेपी पर धर्म के नाम पर राजनीति करने का आरोप लगाया था. वहीं राजस्थान के एक मंत्री का कहना है कि बीजेपी की अध्यक्षता वाले राजगढ़ नगरपालिका बोर्ड ने इसके लिए मंजूरी दी थी. 

अतिक्रमण हटाने के अभियान के दौरान तोड़ा गया था मंदिर

बता दें कि अलवर जिले के राजगढ़ में 17 और 18 अप्रैल को अतिक्रमण हटाने को लेकर एक अभियान के तहत दो मंदिरों और कुछ दुकानों और घरों को तोड़ दिया गया था. 
जिन घरों पर बुलडोजर चला उसके चेहरे बिगड़ गए. कोई अपने घरों की छत पर ही अटका रह गया तो कोई दुकान और घर टूट जाने से परेशान दिखा. लेकिन इसी कार्रवाई में तीन सौ साल पुराने मंदिर के इस एक कोने में बने शिव मंदिर को भी तोड़ दिया गया था. इससे स्थानीय लोगों में काफ़ी रोष है. यहां बीजेपी के तीन सांसद आ चुके हैं और बीजेपी का एक पांच सदस्यीय डेलिगेशन भी आ चुका है. मंदिर को लेकर कांग्रेस और बीजेपी एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

Punjab Minister Visit: ‘शिक्षा और स्वास्थ्य सेवा मॉडल’ देखने के लिए सोमवार को दिल्ली में होंगे पंजाब के अधिकारी, सीएम भगवंत मान भी होंगे साथ

Punjab: LPU प्रोफेसर ने की भगवान राम के बारे में अपमानजनक टिप्पणी, विश्वविद्यालय ने किया बर्खास्त