सभा में तलवार दिखाकर मुश्किल में फंसे राज ठाकरे, ठाणे में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है. ठाणे के नौपाडा पुलिस स्टेशन में राज ठाकरे के खिलाफ ये केस दर्ज हुआ है. मुंबई से सटे थाने में राज ठाकरे की मंगलवार को उत्तर सभा थी, जिसने उन्होंने तलवार दिखाई थी. ठाणे के कमिश्नर जयजीत सिंह ने राज ठाकरे के खिलाफ केस दर्ज होने की पुष्टि की है. इससे पहले महाराष्ट्र गृह विभाग ने कहा कि राज ठाकरे के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया जाएगा. सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हुआ, जिसमें राज ठाकरे एक सभा में तलवार लहराते दिख रहे हैं. हालांकि अब उनकी मुश्किलें बढ़ गई हैं. बता दें राज ठाकरे इन दिनों लाउडस्पीकर पर बयान देकर चर्चा में हैं. उन्होंने कहा कि मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने का मुद्दा उठाया. उन्होंने महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार को अल्टीमेटम देकर डेडलाइन तय की. राज ठाकरे ने कहा कि अगर 3 मई तक सरकार मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं हटाएगी तो इसका परिणाम भुगतना पड़ेगा. उनके इस बयान के बाद एनसीपी के प्रवक्ता महेश तापसे ने प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि राज ठाकरे का महाराष्ट्र की राजनीति में क्या योगदान है. यह महाराष्ट्र की जनता जानती है. उन्होंने फिर एक बार जहर घोलने की कोशिश की. एनसीपी नेता ने कहा कि शरद पवार पर उन्होंने जातिवाद की राजनीति करने का आरोप लगाया . राज ठाकरे को शायद पता नहीं है कि महाराष्ट्र के जातीय सौहार्द को बनाए रखने के लिए शरद पवार का राज्य में क्या योगदान है. और जहां तक शरद पवार के मंदिरों में जाने या न जाने का सवाल है राज ठाकरे को हम यह साफ कर देना चाहते हैं कि राज्य के तमाम बड़े मंदिरों का कायाकल्प करने में शरद पवार ने जो योगदान दिया है उतना शायद किसी का नहीं होगा. उन्होंने कहा कि एनसीपी जिस तरह से राज्य में अपने पैर पसार रही है उसे रोकने के लिए जातिवाद का रंग देने की कोशिश राज ठाकरे कर रहे हैं. महेश तापसे ने कहा कि राज ठाकरे लिखी हुई स्क्रिप्ट को पढ़ने का काम करते हैं.  ये भी पढ़ें- Russia Ukraine War: बूचा में फिर रूसी बर्बरता, मेयर का दावा, मॉस्को सेना ने मारे 720 से ज्यादा लोग, 200 से अधिक लापता Uber Ola Hikes Prices: महंगे पेट्रोल डीजल और सीएनजी का असर, Uber-Ola की सवारी हुई महंगी

सभा में तलवार दिखाकर मुश्किल में फंसे राज ठाकरे, ठाणे में आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है. ठाणे के नौपाडा पुलिस स्टेशन में राज ठाकरे के खिलाफ ये केस दर्ज हुआ है. मुंबई से सटे थाने में राज ठाकरे की मंगलवार को उत्तर सभा थी, जिसने उन्होंने तलवार दिखाई थी. ठाणे के कमिश्नर जयजीत सिंह ने राज ठाकरे के खिलाफ केस दर्ज होने की पुष्टि की है. इससे पहले महाराष्ट्र गृह विभाग ने कहा कि राज ठाकरे के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज किया जाएगा.

सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हुआ, जिसमें राज ठाकरे एक सभा में तलवार लहराते दिख रहे हैं. हालांकि अब उनकी मुश्किलें बढ़ गई हैं. बता दें राज ठाकरे इन दिनों लाउडस्पीकर पर बयान देकर चर्चा में हैं. उन्होंने कहा कि मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने का मुद्दा उठाया. उन्होंने महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार को अल्टीमेटम देकर डेडलाइन तय की. राज ठाकरे ने कहा कि अगर 3 मई तक सरकार मस्जिदों से लाउडस्पीकर नहीं हटाएगी तो इसका परिणाम भुगतना पड़ेगा.

उनके इस बयान के बाद एनसीपी के प्रवक्ता महेश तापसे ने प्रतिक्रिया दी. उन्होंने कहा कि राज ठाकरे का महाराष्ट्र की राजनीति में क्या योगदान है. यह महाराष्ट्र की जनता जानती है. उन्होंने फिर एक बार जहर घोलने की कोशिश की.

एनसीपी नेता ने कहा कि शरद पवार पर उन्होंने जातिवाद की राजनीति करने का आरोप लगाया . राज ठाकरे को शायद पता नहीं है कि महाराष्ट्र के जातीय सौहार्द को बनाए रखने के लिए शरद पवार का राज्य में क्या योगदान है. और जहां तक शरद पवार के मंदिरों में जाने या न जाने का सवाल है राज ठाकरे को हम यह साफ कर देना चाहते हैं कि राज्य के तमाम बड़े मंदिरों का कायाकल्प करने में शरद पवार ने जो योगदान दिया है उतना शायद किसी का नहीं होगा.

उन्होंने कहा कि एनसीपी जिस तरह से राज्य में अपने पैर पसार रही है उसे रोकने के लिए जातिवाद का रंग देने की कोशिश राज ठाकरे कर रहे हैं. महेश तापसे ने कहा कि राज ठाकरे लिखी हुई स्क्रिप्ट को पढ़ने का काम करते हैं. 

ये भी पढ़ें- Russia Ukraine War: बूचा में फिर रूसी बर्बरता, मेयर का दावा, मॉस्को सेना ने मारे 720 से ज्यादा लोग, 200 से अधिक लापता

Uber Ola Hikes Prices: महंगे पेट्रोल डीजल और सीएनजी का असर, Uber-Ola की सवारी हुई महंगी