मध्य प्रदेश: PWD मंत्री के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी करने वाले सरपंच के घर चला बुलडोजर

मध्य प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल साइट्स पर अशोभनीय टिप्पणी करना सरपंच सचिन ठाकुर के लिए भारी पड़ गया. सागर में मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाले सरपंच सचिन ठाकुर के खिलाफ कार्रवाई की गई है. सागर में मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करना सरपंच के लिए भारी पड़ गया. प्रशासन ने टिप्पणी करने वाले सरपंच सचिन ठाकुर के मकान को ध्वस्त कर दिया है. कलेक्टर दीपक आर्य के निर्देश पर बुधवार को उसके घर पर बुलडोजर चला. उसके मकान को बुलडोजर चलाकर जमींदोज कर दिया गया.  मध्य प्रदेश में 'मामा' का चला बुलडोजर गढ़ाकोटा तहसीलदार कुलदीप पाराशर ने बताया कि सरपंच सचिन ठाकुर ने गढ़ाकोटा के भगत सिंह वार्ड निवासी राधे लाल पिता गोपीलाल सोनी के कच्चे मकान को तोड़कर अपना पक्का मकान बना लिया था. 1600 वर्ग फीट एरिया में बने मकान की अनुमानित लागत 20 लाख रुपए है. बताया जाता है कि सचिन ठाकुर ने दो दिन पहले गढ़ाकोटा में एक भू माफिया के खिलाफ हुई बुलडोजर कार्रवाई को लेकर सोशल मीडिया पर टिप्पणी की थी. जिसके चलते यह कार्रवाई हुई.  सरपंच सचिन ठाकुर ने की थी गोपाल भार्गव के खिलाफ टिप्पणी बता दें कि सागर जिले के गढ़ाकोटा के भगत सिंह वार्ड निवासी सचिन ठाकुर ने पिछले दिनों मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी की थी. इसे लेकर सचिन के खिलाफ गढ़ाकोटा थाने की पुलिस ने आईटी एक्ट समेत अलग-अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था. अभद्र टिप्पणी के मामले में पुलिस ने सचिन के खिलाफ FIR भी दर्ज की थी. ये भी पढ़ें: गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, मुश्ताक अहमद जरगर 'डेजिग्नेटिड टेररिस्ट' घोषित, कंधार विमान अपहरण के बदले हुई थी रिहाई 'देश में बोलने पर रोक, मीडिया पर सख्ती, अल्पसंख्यकों बन रहे टारगेट', भारत में मानवाधिकार हनन पर US की रिपोर्ट ने बढ़ाई चिंता  

मध्य प्रदेश: PWD मंत्री के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी करने वाले सरपंच के घर चला बुलडोजर

मध्य प्रदेश के पीडब्ल्यूडी मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल साइट्स पर अशोभनीय टिप्पणी करना सरपंच सचिन ठाकुर के लिए भारी पड़ गया. सागर में मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करने वाले सरपंच सचिन ठाकुर के खिलाफ कार्रवाई की गई है. सागर में मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करना सरपंच के लिए भारी पड़ गया. प्रशासन ने टिप्पणी करने वाले सरपंच सचिन ठाकुर के मकान को ध्वस्त कर दिया है. कलेक्टर दीपक आर्य के निर्देश पर बुधवार को उसके घर पर बुलडोजर चला. उसके मकान को बुलडोजर चलाकर जमींदोज कर दिया गया. 

मध्य प्रदेश में 'मामा' का चला बुलडोजर

गढ़ाकोटा तहसीलदार कुलदीप पाराशर ने बताया कि सरपंच सचिन ठाकुर ने गढ़ाकोटा के भगत सिंह वार्ड निवासी राधे लाल पिता गोपीलाल सोनी के कच्चे मकान को तोड़कर अपना पक्का मकान बना लिया था. 1600 वर्ग फीट एरिया में बने मकान की अनुमानित लागत 20 लाख रुपए है. बताया जाता है कि सचिन ठाकुर ने दो दिन पहले गढ़ाकोटा में एक भू माफिया के खिलाफ हुई बुलडोजर कार्रवाई को लेकर सोशल मीडिया पर टिप्पणी की थी. जिसके चलते यह कार्रवाई हुई. 

सरपंच सचिन ठाकुर ने की थी गोपाल भार्गव के खिलाफ टिप्पणी

बता दें कि सागर जिले के गढ़ाकोटा के भगत सिंह वार्ड निवासी सचिन ठाकुर ने पिछले दिनों मध्य प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री गोपाल भार्गव के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभद्र टिप्पणी की थी. इसे लेकर सचिन के खिलाफ गढ़ाकोटा थाने की पुलिस ने आईटी एक्ट समेत अलग-अलग धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था. अभद्र टिप्पणी के मामले में पुलिस ने सचिन के खिलाफ FIR भी दर्ज की थी.

ये भी पढ़ें:

गृह मंत्रालय का बड़ा फैसला, मुश्ताक अहमद जरगर 'डेजिग्नेटिड टेररिस्ट' घोषित, कंधार विमान अपहरण के बदले हुई थी रिहाई

'देश में बोलने पर रोक, मीडिया पर सख्ती, अल्पसंख्यकों बन रहे टारगेट', भारत में मानवाधिकार हनन पर US की रिपोर्ट ने बढ़ाई चिंता