दिल्ली हिंसा: 5 आरोपियों अंसार, सलीम, सोनू, दिलशाद और आहिर पर लगा NSA, अब तक 26 गिरफ्तार, जानिए बड़ी बातें

दिल्ली के जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के मौके पर हिंसा भड़क गई. शोभायात्रा के दौरान भड़की हिंसा में अब पुलिस आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है. इस मामले से जुड़े पांच मुख्य आरोपियों पर अब एनएसए लगा दिया गया है. साथ ही पुलिस ने कुछ नई गिरफ्तारियां भी की हैं. मामले को लेकर राजनीति भी तेज हो चुकी है. आइए जानते हैं दिल्ली हिंसा से जुड़ी आज की हर बड़ी अपडेट...  अब तक 26 लोग गिरफ्तारदिल्ली पुलिस की तरफ से बताया गया है कि जांच शुरुआती दौर में है और फिलहाल पहचान के बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया जा रहा है. पुलिस ने अब एक आरोपी को पिस्तौल देने वाले शख्स को भी गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार हुए शख्स का नाम गुल्ली है, जिसने आरोपी सोनू चिकना को हथियार सप्लाई किया था. पुलिस अब तक कुल 26 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है, जिसमें कुछ नाबालिग भी शामिल हैं. आगे भी इस हिंसा को लेकर कुछ और गिरफ्तारियां हो सकती हैं. पुलिस अधिकारियों की तरफ से बताया गया है कि हथियार रखने वाले सभी आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं. सभी से पूछताछ की जा रही है. पांच आरोपियों के खिलाफ एनएसएगृहमंत्रालय की तरफ से दिल्ली हिंसा के पांच आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई का फैसला लिया गया है. इनमें  मुख्य आरोपी अंसार के अलावा आरोपी सलीम, इमाम शेख उर्फ सोनू, दिलशाद और आहिर का नाम शामिल है. इससे पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को सख्त निर्देश जारी किए थे. उन्होंने कहा था कि जो भी इस हिंसा के लिए जिम्मेदार हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए, साथ ही ऐसी कड़ी कार्रवाई करें कि दोबारा कोई हिंसा करने की न सोचे. इसके अलावा अमित शाह ने जांच में तेजी की भी बात कही थी.  राजनीतिक घमासान भी शुरूदिल्ली हिंसा में एक तरफ जहां पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारियों में जुटी है, वहीं इस मामले को लेकर राजनीतिक दलों में घमासान भी छिड़ गया है. दिल्ली में बीजेपी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी लगातार एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. पहले जहां बीजेपी की तरफ से मुख्य आोपी अंसार को आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता बताया गया, वहीं अब आम आदमी पार्टी की तरफ से भी आरोपी की बीजेपी नेताओं के साथ तस्वीर शेयर की गई है. जिसके आधार पर AAP आरोप लगा रही है कि ये सब कुछ बीजेपी के इशारों पर हुआ है. वहीं कांग्रेस भी बीजेपी की केंद्र सरकार पर हमलावर है. इन हमलों का बचाव करने के लिए बीजेपी प्रवक्ता लगातार जवाब देने में जुटे हैं. बीजेपी की तरफ से कांग्रेस को उनके शासनकाल में हुए दंगों की याद दिलाई जा रही है. बीजेपी नेताओं ने पुलिस कमिश्नर से मुलाकात कर आम आदमी पार्टी के साथ आरोपी के रिश्तों की जांच की मांग भी की है.  जहांगीरपुरी इलाके में फिलहाल शांति बरकरारदिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में कुशाल चौक के पास की सड़कों पर मंगलवार को कुछ सामान्य गतिविधियां फिर से शुरू हो गईं, लेकिन हिंसा प्रभावित इलाके में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है. लगातार चौथे दिन ज्यादातर दुकानें बंद रहीं, लेकिन कुशल चौक के पास सड़कों पर सब्जी और फलों की कुछ रेहड़ियां नजर आईं. लोग सब्जी और किराने के सामान खरीदते नजर आए. स्थानीय लोगों के अनुसार, पिछले दिन की तुलना में स्थिति में सुधार हुआ है. हालांकि, आम जनजीवन अब भी प्रभावित है और इलाके में बड़ी संख्या में सुरक्षा कर्मी तैनात हैं.  जहांगीरपुरी हिंसा को लेकर राजनीति तेज, दिल्ली बीजेपी नेताओं ने पुलिस कमिश्नर से की मुलाकात, AAP पर गंभीर आरोप Jahangirpuri Violence Case: हिंसा के एक दिन पहले का वीडियो आया सामने, रात को लाठियां जमा करते दिखे उपद्रवी

दिल्ली हिंसा: 5 आरोपियों अंसार, सलीम, सोनू, दिलशाद और आहिर पर लगा NSA, अब तक 26 गिरफ्तार, जानिए बड़ी बातें

दिल्ली के जहांगीरपुरी में हनुमान जयंती के मौके पर हिंसा भड़क गई. शोभायात्रा के दौरान भड़की हिंसा में अब पुलिस आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है. इस मामले से जुड़े पांच मुख्य आरोपियों पर अब एनएसए लगा दिया गया है. साथ ही पुलिस ने कुछ नई गिरफ्तारियां भी की हैं. मामले को लेकर राजनीति भी तेज हो चुकी है. आइए जानते हैं दिल्ली हिंसा से जुड़ी आज की हर बड़ी अपडेट... 

अब तक 26 लोग गिरफ्तार
दिल्ली पुलिस की तरफ से बताया गया है कि जांच शुरुआती दौर में है और फिलहाल पहचान के बाद आरोपियों को गिरफ्तार किया जा रहा है. पुलिस ने अब एक आरोपी को पिस्तौल देने वाले शख्स को भी गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार हुए शख्स का नाम गुल्ली है, जिसने आरोपी सोनू चिकना को हथियार सप्लाई किया था. पुलिस अब तक कुल 26 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है, जिसमें कुछ नाबालिग भी शामिल हैं. आगे भी इस हिंसा को लेकर कुछ और गिरफ्तारियां हो सकती हैं. पुलिस अधिकारियों की तरफ से बताया गया है कि हथियार रखने वाले सभी आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं. सभी से पूछताछ की जा रही है.

पांच आरोपियों के खिलाफ एनएसए
गृहमंत्रालय की तरफ से दिल्ली हिंसा के पांच आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई का फैसला लिया गया है. इनमें  मुख्य आरोपी अंसार के अलावा आरोपी सलीम, इमाम शेख उर्फ सोनू, दिलशाद और आहिर का नाम शामिल है. इससे पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर को सख्त निर्देश जारी किए थे. उन्होंने कहा था कि जो भी इस हिंसा के लिए जिम्मेदार हैं उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए, साथ ही ऐसी कड़ी कार्रवाई करें कि दोबारा कोई हिंसा करने की न सोचे. इसके अलावा अमित शाह ने जांच में तेजी की भी बात कही थी. 

राजनीतिक घमासान भी शुरू
दिल्ली हिंसा में एक तरफ जहां पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारियों में जुटी है, वहीं इस मामले को लेकर राजनीतिक दलों में घमासान भी छिड़ गया है. दिल्ली में बीजेपी, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी लगातार एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. पहले जहां बीजेपी की तरफ से मुख्य आोपी अंसार को आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता बताया गया, वहीं अब आम आदमी पार्टी की तरफ से भी आरोपी की बीजेपी नेताओं के साथ तस्वीर शेयर की गई है. जिसके आधार पर AAP आरोप लगा रही है कि ये सब कुछ बीजेपी के इशारों पर हुआ है. वहीं कांग्रेस भी बीजेपी की केंद्र सरकार पर हमलावर है. इन हमलों का बचाव करने के लिए बीजेपी प्रवक्ता लगातार जवाब देने में जुटे हैं. बीजेपी की तरफ से कांग्रेस को उनके शासनकाल में हुए दंगों की याद दिलाई जा रही है. बीजेपी नेताओं ने पुलिस कमिश्नर से मुलाकात कर आम आदमी पार्टी के साथ आरोपी के रिश्तों की जांच की मांग भी की है. 

जहांगीरपुरी इलाके में फिलहाल शांति बरकरार
दिल्ली के जहांगीरपुरी इलाके में कुशाल चौक के पास की सड़कों पर मंगलवार को कुछ सामान्य गतिविधियां फिर से शुरू हो गईं, लेकिन हिंसा प्रभावित इलाके में तनावपूर्ण शांति बनी हुई है. लगातार चौथे दिन ज्यादातर दुकानें बंद रहीं, लेकिन कुशल चौक के पास सड़कों पर सब्जी और फलों की कुछ रेहड़ियां नजर आईं. लोग सब्जी और किराने के सामान खरीदते नजर आए. स्थानीय लोगों के अनुसार, पिछले दिन की तुलना में स्थिति में सुधार हुआ है. हालांकि, आम जनजीवन अब भी प्रभावित है और इलाके में बड़ी संख्या में सुरक्षा कर्मी तैनात हैं. 

जहांगीरपुरी हिंसा को लेकर राजनीति तेज, दिल्ली बीजेपी नेताओं ने पुलिस कमिश्नर से की मुलाकात, AAP पर गंभीर आरोप

Jahangirpuri Violence Case: हिंसा के एक दिन पहले का वीडियो आया सामने, रात को लाठियां जमा करते दिखे उपद्रवी