टेस्टी होती हैं ये समर स्पेशल ड्रिंक्स, फैट को भी रखती हैं कंट्रोल

चिल्ड और स्वीड ड्रिंक्स के बिना गर्मी का मौसम जानलेवा लगने लगता है. हालांकि ज्यादातर ड्रिंक्स में चीनी का होना आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है. खासतौर पर मोटापा बढ़ाने और टाइप-टु डायबिटीज की तरफ धकेलने का काम ये ड्रिंक्स कर सकती हैं. इसलिए जरूरी है कि आप उन चिल्ड और स्वीट ड्रिंक्स पर फोकस करें, जो फैट बढ़ाने का काम नहीं करती हैं और जिनमें टेस्ट तो बहुत होता है लेकिन कैलरी बहुत कम होती हैं. 1. सबसे पहली ड्रिंक  गर्मी के सितम को कम करने के लिए सबसे पहली शानदार ड्रिंक है प्लेन वॉटर. जी हां, सादा पानी जिसे आप हर दिन पीते हैं. इस पानी की मात्रा को गर्मी के मौसम में बढ़ा देना चाहिए. ताकि पसीने और यूरिन के बाद भी आपके शरीर में पानी की कमी ना हो और सभी विषैले तत्व शरीर से बाहर आते रहें. 2. चेरी का जूस  मोटापा और ब्लोटिंग बढ़ने की समस्या का संबंध पूरी और गहरी नींद ना ले पाने से भी है. ऐसे में गर्मी की बेचैनी के बीच चेरी का जूस आपके दिमाग को शांत करने, शरीर की थकान दूर करने और अच्छी नींद लाने में बहुत मदद करता है. 3. नारियल पानी नारियल पानी गुणों की खान है. इस पानी का सेवन हर मौसम में करना चाहिए लेकिन गर्मी के मौसम में खासतौर पर हर दिन कम से कम एक नारियल पानी जरूर पीना चाहिए. यह मिनरल्स, विटमिन्स और एंटिऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है. 4. ताजे फलों का रस  ताजे फलों के रस में जो भी शुगर होती है वो प्राकृतिक होती है. स्वाद बढ़ाने के चक्कर में आप इसमें अतिरिक्त शुगर ऐड ना करें और इस नैचरल रस का स्वाद इंजॉय करें. 5. रसीले फल रसीले फल प्यास को शांत करने का काम करते हैं. यदि आप हर दिन रसीले फलों का सेवन करते हैं तो आपको मुंह सूखने की समस्या या डिहाइड्रेशन का सामना नहीं करना पड़ता है, क्योंकि रसीले फल भी शरीर में पानी की कमी को दूर करते हैं. इसलिए आप तरबूज, खरबूजा, संतरा, अनार जैसे फलों का सेवन रोज करें.   Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, एबीपी न्यूज़ इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें. यह भी पढ़ें: दिन में कितनी बार खाते हैं आप? अच्छे मेटाबॉलिज़म के लिए छोड़ दें छोटे-छोटे मील्स लेना यह भी पढ़ें: थकान और सिरदर्द बना रहता है? शरीर में हो सकती है इस विटामिन की कमी  

टेस्टी होती हैं ये समर स्पेशल ड्रिंक्स, फैट को भी रखती हैं कंट्रोल

चिल्ड और स्वीड ड्रिंक्स के बिना गर्मी का मौसम जानलेवा लगने लगता है. हालांकि ज्यादातर ड्रिंक्स में चीनी का होना आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है. खासतौर पर मोटापा बढ़ाने और टाइप-टु डायबिटीज की तरफ धकेलने का काम ये ड्रिंक्स कर सकती हैं. इसलिए जरूरी है कि आप उन चिल्ड और स्वीट ड्रिंक्स पर फोकस करें, जो फैट बढ़ाने का काम नहीं करती हैं और जिनमें टेस्ट तो बहुत होता है लेकिन कैलरी बहुत कम होती हैं.
 
1. सबसे पहली ड्रिंक 

गर्मी के सितम को कम करने के लिए सबसे पहली शानदार ड्रिंक है प्लेन वॉटर. जी हां, सादा पानी जिसे आप हर दिन पीते हैं. इस पानी की मात्रा को गर्मी के मौसम में बढ़ा देना चाहिए. ताकि पसीने और यूरिन के बाद भी आपके शरीर में पानी की कमी ना हो और सभी विषैले तत्व शरीर से बाहर आते रहें.

2. चेरी का जूस 

मोटापा और ब्लोटिंग बढ़ने की समस्या का संबंध पूरी और गहरी नींद ना ले पाने से भी है. ऐसे में गर्मी की बेचैनी के बीच चेरी का जूस आपके दिमाग को शांत करने, शरीर की थकान दूर करने और अच्छी नींद लाने में बहुत मदद करता है.

3. नारियल पानी

नारियल पानी गुणों की खान है. इस पानी का सेवन हर मौसम में करना चाहिए लेकिन गर्मी के मौसम में खासतौर पर हर दिन कम से कम एक नारियल पानी जरूर पीना चाहिए. यह मिनरल्स, विटमिन्स और एंटिऑक्सीडेंट्स से भरपूर होता है.

4. ताजे फलों का रस 

ताजे फलों के रस में जो भी शुगर होती है वो प्राकृतिक होती है. स्वाद बढ़ाने के चक्कर में आप इसमें अतिरिक्त शुगर ऐड ना करें और इस नैचरल रस का स्वाद इंजॉय करें.

5. रसीले फल 
रसीले फल प्यास को शांत करने का काम करते हैं. यदि आप हर दिन रसीले फलों का सेवन करते हैं तो आपको मुंह सूखने की समस्या या डिहाइड्रेशन का सामना नहीं करना पड़ता है, क्योंकि रसीले फल भी शरीर में पानी की कमी को दूर करते हैं. इसलिए आप तरबूज, खरबूजा, संतरा, अनार जैसे फलों का सेवन रोज करें.

 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, एबीपी न्यूज़ इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

यह भी पढ़ें: दिन में कितनी बार खाते हैं आप? अच्छे मेटाबॉलिज़म के लिए छोड़ दें छोटे-छोटे मील्स लेना

यह भी पढ़ें: थकान और सिरदर्द बना रहता है? शरीर में हो सकती है इस विटामिन की कमी